chuka beach: पर्यटन का नया प्रतीक बन रहा ‘चूका बीच’, योगी सरकार के प्रयासों से देश-विदेश के पर्यटकों को कर रहा आकर्षित

chuka beach:पीलीभीत स्थित चूका बीच उत्तर प्रदेश का नया टूरिज्म डेस्टिनेशन बन गया है. प्रदेश में पर्यटन के विकास को लेकर विभिन्न स्थलों को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने की योगी सरकार की योजना का सीधा लाभ चूका बीच को मिल रहा है. नतीजा ये रहा है कि इस वर्ष अब तक 23625 भारतीय एवं 54 विदेशी समेत कुल 23679 पर्यटकों ने चूका बीच का भ्रमण किया.

इससे विभाग को 5104050 का राजस्व प्राप्त हुआ, जो कि विगत वर्षों की तुलना में सर्वाधिक है. उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा के अनुरूप पर्यटन विभाग प्रदेश में पुराने पर्यटन स्थलों के साथ ही ऐतिहासिक एवं अन्य खासियत वाले नए-नए केंद्रों का विकास कर रहा है. ऐसे स्थलों पर पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पर्यटकों की सभी जरूरतों का विशेष ध्यान रखा जा रहा है. पिछली सरकारों में अनदेखी की वजह से उत्तर प्रदेश का इकलौता चूका बीच वर्षों गुमनामी में रहा.

पर्यटक यहां आने से कतराते थे, उन्हें अपनी सुरक्षा को लेकर असमंजस रहता था. वहीं योगी सरकार ने चूका बीच का प्रचार प्रसार कराया, जिसके बाद चूका बीच लोगों के बीच एक आकर्षक स्थल के रूप में लोकप्रिय हुआ. यहां आसपास बने मंदिरों में दर्शन के अलावा पर्यटक खाने के स्टॉल और ट्री हाउस का आनंद उठा रहे हैं. साथ ही यहां का मौसम और प्राकृतिक सुंदरता भी उनको अपनी ओर आकर्षित कर रही है.

 23579 पर्यटकों ने जंगल सफारी का भी उठाया आनंद

पर्यटन सत्र 15 नवंबर से अब तक वरिष्ठ अधिकारी, राजनेता, अभिनेता एवं सर्वोच्च/उच्च न्यायालय के न्यायधीश भी आये, जिन्हें पर्यटन के दौरान वन्य जीवों के दीदार किए. पीलीभीत टाईगर रिजर्व के तहत विभिन्न रेंजों में 7 वन विश्राम भवन उपलब्ध है. चूका पर्यटन स्थल पर पर्यटकों के रात्रि विश्राम के लिए 4 थारू एवं 1 ट्री हट उपलब्ध है. चूका पर्यटन स्थल पर मुस्तफाबाद ईको विकास समिति द्वा-सैन्टीन का संचालन किया जा रहा है.

चूका पर्यटन स्थल पर एक सोविनियर शॉप भी उपलब्ध है. पर्यटन सत्र 2022-23 में विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राओं एवं अध्यापकों द्वारा 42 बार निजी बसों द्वारा भ्रमण किया गया. पर्यटन वर्ष में 23579 पर्यटकों द्वारा 4337 जंगल सफारी से भ्रमण किया गया. पर्यटन वर्ष के दौरान 839 बार हटों की ऑनलाइन बुकिंग पर्यटकों द्वारा की गयी है. चूका पर्यटन स्थल पर 44 टूरिस्ट गाइड उपलब्ध है, जिनके द्वारा पर्यटकों को भ्रमण कराया गया. पर्यटकों के लिए 4 वॉच टॉवरों का निर्माण कराया गया.

 होम स्टे का भी किया जा रहा संचालन

योगी सरकार द्वारा चूका बीच के प्रचार-प्रसार के लिए सोशल मीडिया पर ट्विटर, @pilibhitR बेवसाइट pilibhittigerreserve.in का उपयोग किया जाता है. पर्यटकों के लिए पीटीआर मुख्यालय, मुस्तफाबाद एवं लालपुर के पास 3 सिगनेचर गेट उपलब्ध हैं. पर्यटकों के लिए एक वॉटर हट उपलब्ध है, जो पर्यटकों को बहुत पसन्द आ रहा है. पर्यटकों के लिए शारदा सागर डैम में मोटर बोट सफारी संचालित है. पर्यटकों के लिए चूका बीच पर्यटन स्थल एवं महोफ रेंज परिसर में एक-एक प्रकृति चित्रण केन्द्र उपलब्ध है. पीलीभीत टाईगर रिजर्व के तहत 4 होम स्टे का संचालन हो रहा है.

पांच वर्षों में 77 हजार से अधिक पर्यटकों ने चूका बीच का किया भ्रमण

वर्ष – विदेशी पर्यटक – भारतीय पर्यटक – प्राप्त राजस्व
2018-19 – 23 – 15885 – 3672935
2019-20 – 13 – 7122 – 1729976
2020-21 – 02 – 12389 – 2607205
2021-22 – 07 – 18738 – 4509170
2022-23 – 54 – 23525 – 5104050

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button