कांग्रेस ने अलका लांबा के बयान को किया ख़ारिज, कहा-‘वे बोलने के लिए अधिकृत नहीं है’

दिल्ली कांग्रेस के कम्यूनिकेशन डिपार्टमेंट के अध्यक्ष और पूर्व विधायक अनिल भारद्वाज ने कहा कि आज हुई की बैठक में गठबंधन पर किसी भी प्रकार की चर्चा नहीं हुई।

नई दिल्ली। अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने कमर कसनी शुरू कर दी। पार्टियों की बैठकों का दौर शुरू हो गया है। इसी कड़ी में दिल्ली कांग्रेस के कम्यूनिकेशन डिपार्टमेंट की  बैठक हुई। बैठक के बाद कम्यूनिकेशन डिपार्टमेंट अध्यक्ष और पूर्व विधायक अनिल भारद्वाज ने कहा कि आज हुई की बैठक में गठबंधन पर किसी भी प्रकार की चर्चा नहीं हुई। उन्होंने गठबंधन पर कांग्रेस नेता अलका लांबा की तरफ से दिए गए बयान को सिरे से खारिज कर दिया और कहा लका लांबा इस पर बोलने के लिए अधिकृत नहीं हैं।

अनिल भरद्वाज ने कहा, बैठक में हम किसी से क्या समझौता करने वाले हैं इसको लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है। ये तय करना केंद्रीय नेतृत्व का काम है। उन्होंने बताया के दीपक बावरिया को प्रेस में बयान देने के लिए अधिकृत किया गया था और स्पष्ट किया है कि हमारी जो बैठक हुई थी, उसमें कहा गया कि जो हमारी कमियां है उसको कैसे ठीक करना है।
बता दें कि दिल्ली कांग्रेस के इंचार्ज दीपक बावरिया ने कहा, “आज की बैठक में गठबंधन के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई है। इंडिया गठबंधन पर जो भी चर्चा होगी वह कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे के लेवल पर होगी।

गौरतलब है कि इस बैठक को लेकर अलका लांबा ने कहा था कि कांग्रेस की तैयारी दिल्ली में लोकसभा की सभी सात सीटों पर होगी।उन्होंने कहा था कि सात महीने हैं और लोकसभा की सात सीटें हैं और इन सीटों पर कैसे जीत दर्ज करनी है इस पर चर्चा हुई है। इन सभी सातों सीटों पर संगठन के नेताओं को काम करना है। अलका लांबा ने कहा कि आगामी चुनाव को देखते हुए पार्टी ने सभी सातों सीटों पर कड़ी मेहनत करने को कहा है। उन्होंने बताया कि संगठन की तरफ से जो जिम्मेदारियां तय की जाएंगी उस पर हम लोग काम करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button