एसडीएम ज्योति मौर्या ने खटखटाया दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा, की ये मांग

अपनी निजी जिंदगी की वजह से काफी से चर्चा में चल रहीं उत्तर प्रदेश की एसडीएम ज्योति मौर्या ने अब दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

नई दिल्ली। अपनी निजी जिंदगी की वजह से काफी से चर्चा में चल रहीं उत्तर प्रदेश की एसडीएम ज्योति मौर्या ने अब दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। ज्योति मौर्या ने उनकी पर्सनल लाइफ से जुड़ी खबरों, फेक न्यूज, वीडियो, ऑडियो और उनसे जुड़े गानों को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हटवाने की अपील की है।

गौरतलब है कि प्रतापगढ़ जिले के ग्राम पंचायत विभाग में चपरासी के पद पर कार्यरत उनके पति आलोक मौर्या ने उनके ऊपर गंभीर आरोप लगाए थे। वहीं दूसरी तरफ ज्योति मौर्या ने पति आलोक कुमार मौर्या और उनके परिवार वालों पर दहेज उत्पीड़न का आरोप लगते हुए धूमनगंज थाने में केस दर्ज कराया हुआ है। ज्योति मौर्या ने कोर्ट से मीडिया को भविष्य में भी अपने निजी जीवन के बारे में कोई भी बात बिना इजाजत नहीं प्रसारित करने का निर्देश देने की मांग की है।

मालूम हो कि बीते जून महीने में ज्‍योति के पति आलोक का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसमें उन्‍होंने पत्‍नी ज्‍योति मौर्या पर धोखा देने का आरोप लगाया था। आलोक ने कहा था कि साल 2010 में उनकी शादी हुई थी और पत्‍नी ज्योति को पढ़ाने के लिए उन्‍होंने लोन लिया था ताकि पत्‍नी अपने सपने पूरे कर सके, लेकिन उसने मुझे धोखा दिया। आलोक ने वीडियो में आरोप लगाते हुए कहा था कि उसकी पत्‍नी ज्‍योति अब होम गार्ड कमांडेंट मनीष दुबे के साथ रिलेशनशिप में हैं।

पीसीएस अफसर बन जाने के बाद से ज्‍योति और मेरे संबंधों में दरार आ गई। उसने मेरे और परिवार के खिलाफ दहेज उत्‍पीड़न का झूठा मुकदमा दर्ज कराया है। चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी आलोक मौर्या ने सोशल मीडिया पर कहा था क‍ि उनकी पत्नी ज्योति को सजा मिले, लेक‍िन वह अपने दोनों बच्‍चों के लिए समझौता करने के ल‍िए तैयार हैं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button